पौड़ी में कंडोलिया महादेव का प्रसिद्ध मंदिर कथा हिंदी में कंडोलिया देवता मंदिर Ransi stadium kandolia park tourist place nearby pauri Kandlia Devta mandir hindi kandia mandir pauri

Kandolia mandir

कंडोलिया महादेव पौड़ी का प्रसिद्ध मंदिर आज भी पौड़ी आने वाले सभी पर्यटक कंडोलिया मंदिर जरूर आते हैं महादेव शिव को है समर्पित शिव का रूप है कंडोलिया देवता मंदिर

kandolia Pauri

कंडोलिया मंदिर Kandolia Temple Hindi

कंडोलिया मंदिर पौड़ी में स्थित है मंदिर के लिए सड़क से ऊपर तक सीढ़ियां एवं शेड का निर्माण किया गया है साथ ही नजदीक में कंडोलिया पार्क भी स्थित है मंदिर उच्चाई पर होने की वजह से यहां अक्सर धुंध लगी रहती है और ठंड भी बहुत अधिक होती है इसलिए आप जब भी यहां जाए अपने साथ गर्म कपड़े अवश्य ले जाए जबकि पौड़ी की तुलना में श्रीनगर बेहद गर्म है।

कंडोलिया मंदिर सड़क से ऊपर की ओर है मंदिर दिखने में छोटा है परन्तु यहां आने वाले लोगों की संख्या काफी अधिक है साथ ही मंदिर प्रांगण भी बड़ा व चारों ओर बेहतरीन सुंदर दृश्यों से परिपूर्ण है।

पौड़ी में नजदीकी पर्यटक स्थल Pauri nearby tourist place

पौड़ी में नजदीकी पर्यटक स्थल कंडोलिया, रांसी स्टेडियम ( एशिया का सबसे अधिक उच्चाई वाला स्टेडियम), कंडोलिया मंदिर इत्यादि।

कंडोलिया पार्क Kandoliya park

कंडोलिया पार्क मंदिर मार्ग के ठीक सामने है मंदिर तक पहुंचने के मार्ग की जानकारी नीचे जोड़ी गई है कंडोलिया पार्क दिखने में बड़ा व संदुर बनाया गया है यहां बच्चों के खेलने के लिए झूले, स्केटिंग, वॉटर फाउंटेन, और कुछ जगह जहां पर आप अच्छी फोटो खींच सकते हैं बनाई गई हैं साथ ही पार्क में जाने पर किसी भी प्रकार की कोई फीस नहीं ली जाती है कंडोलिया पार्क और मंदिर बेहद सुंदर जगह हैं जहां पर आप पौड़ी आए तो जरूर जाएं।

कंडोलिया मंदिर मार्ग Kandoliya Path

कंडोलिया महादेव मंदिर पौड़ी जनपद में स्थित है यहां तक आप आसानी से श्रीनगर गढ़वाल से पहुंच सकते हैं श्रीनगर गढ़वाल में ही केन्द्रीय विश्वविद्यालय स्थित है

देहरादून से पौड़ी Dehradun to pauri

देहरादून – ऋषिकेश – टिहरी – पौड़ी जनपद ( श्रीनगर गढ़वाल)

कुमाऊं से पौड़ी Kumaon to Pauri

कुमाऊं – अल्मोड़ा – चमोली – रुद्रप्रयाग – श्रीनगर गढ़वाल (पौड़ी जनपद)
पौड़ी जनपद में पहुंचने के बाद आपको बस श्रीनगर गढ़वाल पहुंचना है जहां से पौड़ी स्टैंड से आपको आसानी से पौड़ी के लिए बस गाड़ी मिल जायेंगी।

चन्द्रबदिनी मंदिर

कंडोलिया देवता की कथा Kandolia Devta story

कंडोलिया देवता का यह प्रसिद्ध मंदिर पौड़ी जनपद में स्थित है जो लोग भी पौड़ी आते हैं वे सामान्यतः कंडोलिया महादेव और कंडोलिया पार्क में अवश्य जाते हैं इसकी एक वजह ये भी है कि कंडोलिया पौड़ी मेन मार्केट से बस 2-3 किमी. की दूरी पर स्थित है जिस वजह से वाहन वाले लोग तो यहां जाते हैं परन्तु जो आसपास लोग या छात्र यहां आते हैं वे भी कंडोलिया मंदिर के दर्शन कर लेते हैं।

कंडोलिया मंदिर से जुड़ी मान्यता है कि पुराने समय में जब पौड़ी के पहले निवासी यहां आए थे तब वे कंडोलिया देवता को अपने साथ लाए थे साथ ही जब भी शहर पर कोई भी विपदा आने वाली रहती थी तो देवता लोगो को आवाज लगाते थे, आज भी कहते हैं की पहले कंडोलिया महादेव का यह मंदिर नीचे हुआ करता था जो बाद में उपर स्थापित किया गया, यह मंदिर महादेव शिव को समर्पित है जिस वजह से कई लोग इन्हें कंडोलिया महादेव कहकर भी पुकारते हैं।

कंडोलिया नाम जुड़ी अन्य कहानी another story of Kandolia

कंडोलिया मंदि से जुड़ी एक कहानी यह भी है कि पौड़ी के युवक का विवाह जब एक कुमाऊनी युवती से बहुत पहले हुआ था तब युवती अपने साथ अपने भूम्याल देवता को कंडी लाई थी जिस कारण मंदिर का नाम कंडोलिया पड़ा।

यानी कंडोलिया कंडी में लाई कंडोलिया

कमलेश्वर महादेव श्रीनगर वैकुंठ चतुर्दशी मेला

 

कंडोलिया मंदिर पौड़ी kandolia Temple pauri

हमारे द्वारा आपके लिए कंडोलिया महादेव मंदिर पौड़ी सम्बन्धी अधिक से अधिक जानकारी प्रदान की गई है यदि आप किसी प्रकार का सुझाव या जानकारी देना चाहते हैं तो आप कॉमेंट या ईमेल के जरिए हमसे सम्पर्क कर सकते हैं (ईमेल करने के लिए क्लिक करें)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website.