kumauni joke and garhwali joke free uttrakhandi jokes available now

garhwali joke kumauni joke

Mast gadwali joke

दादी पोती का एक पहाड़ी संवाद…..

गर्मियों की छुट्टियों मा पोती Delhi बिटी की  अपणांं  Tehri gadwal गौं गैई त वख एक दादीन पूछी:
दादी:- हे बबा, तु  तैं दिल्ली मा क्य छै करनी,अजकालु?
,
नतेण:- दादी मी नर्सिंग कु कोर्स छौं करनु।
दादी गुस्सा मा:- कनु बिजोक पडी बबा, ए जमाना मुंद, देवी देवतों कु भी कोर्स कर्न लग्यां  छन मनखी।
पर हे निर्भेगी, अगर त्वै तै करन कु वास्ता सिर्फ ई कोर्स रैगि छौ त तु कैं काली माता ,भगवती कू कोर्स करदी। नरसिगौं कोर्स किलै पकडी तिन ?……। नरसिंग त सिर्फ बैखु पर आन्दु, जनान्यों पर नि आन्दु……….।

*******************************************************

New garhwali joke

uttarakhand tourism green uttrakhand

Dehradun  पुलिस वाले ने मुझे रोक लिया,
😡😡😡😡😡
क्योंकि मैंने हेलमेट नहीं पहना था।
🤔🤔🤔🤔 🤔
पुलिसवाले ने गाड़ी से चाभी निकाली
😱😱😱😱😱😱😱
और बोला,आ जाओ मेरे पीछे-पीछे।’
हम तो ठहरे Gairsain वाले😊😊 फिर क्या?
हमने जेब से दूसरी चाबी
निकाली,🤗😎
गाड़ी स्टार्ट कर के हमने पुलिस वाले से कहा,
अब तू आजा हमारे पीछे पीछे-…😜😜😜😜😜 🚦दबंगो का Sehar है Gairsain 😊😊
👊🏻👉   Gairsain के हो तो फैला दो हर ग्रुप में…. ☆#
                  👇🏻
              ​*********************************************
                                    ⚔  Gairsain के शेर​ ⚔
****************************************************************

✈✈✈✈

Joke for phadi

uttrakhand jokes in hindi

फलाण वासियो के लिए बङी खुश खबरी।

खानसर वासियो को विदेश जाने के लिए पहले Lucknow , दिल्ली जाना पडता था लेकिन अब नही जाना पडेगा। क्योंकि इस साल खानसर मे जल्द बनने वाला है एयरपोर्ट जिससे विदेश जाना होगा आसान। कल दिल्ली मे हुई मीटिंग में निर्णय लिया गया कि अब खानसर मे बनेगा ऐयरपोर्ट जिसके लिए सरकार ने 300 करोङ रुपये देने कि घोषणा कि है, कार्य जल्द शुरु होने कि सम्भावना।
एयरपोर्ट बनाने कि जमीन गैलगोपुली के पास की 300 बीघा जमीन पर बनने कि पुरी सम्भावना या फिर या फिर नजदीक में बनने की संभावना है।
एयरपोर्ट के लिए 10 प्लेन चलेंगे जिसमे दो तो jaipur और तीन प्लेन दिल्ली, Mumbai, Bangluru के लिए चलेंगे। बाकि पांच  विदेशो के लिए जरुरत के हिसाब से चले
खानसर के लिए बहुत बङी खुशी की बात है कि एक साल के भीतर काम पुरा हो जायेगा
एक महीने ट्रायल के बाद समय  पर प्लेन चलेंगे।
✈✈✈✈
✈✈✈✈पुरा पढने के लिए धन्यवाद!

कुछ नही बन रहा 😂😂😂
रोड का खड्डा तो भर नही रहा और एयरपोर्ट बना देगे🤣🤣🤣
                              😜😜😜😜😜😜
******************************************************

Roti masti

कोदे की रोटी कंडाली का साग
बांज की लकड़ी करारी आग
चौमासा की बरखा ह्युन्द की आग
मुंगरी की रोटी पिंडालू कु साग
आषाढ़ की रोपणी भादो कु घाम
सौण की बरखा अशूज कु काम
ह्युन्द की मैना की लम्बी लम्बी रात
आहा कन छा आपडा गौं की बात
देव भूमि
रीति रिवाज
मेरी जन्मभूमि उत्तराखंड
jay uttrakhand Fela do dev bhumi k naam pe

******************************************************
phadi hindi shayri
हम uttrakhandiyo को पुलिस की पुलिस की जरुरत और पड़ती कुछ करके तो बता देवता ना लगा दिया तो बताना😎😎😎😎😎😎
*********************************************************************
पेपर मां आई की सबसे लम्बी चीज क्या होती है?

तबारी एक बच्चा क लिख्यू हमारा ज्यूड जिसको हम घास के लिए लम्बा बने सकदा

++++++
ब्ला भेजी नौनी ते हौंदू बला मेकअप शौक
अर बरखा ह्वेगी कैले नी दयोख 🤣🤣🤣🤣

+++
पनेरा पानी पनेरा पानी
अर लयोह ते चट, हमर
 बोतल ह्वेगे घट 🤣🤣🤣
******

Garhwali call center : बोडी मि बोडाफोन बटी बुनू छॉ

बोडी : अरे लाटा तू बोडा कु फोन बटी बुनी छैं अर यख सुबेर बटी तयार बोडा फोन खुजाणू च।
********************************************************************************
उत्तराखंड में पलायन के लिए
आज से लगभग
बीस -पच्चीस साल पहले की वे औरतें भी ज़िम्मेदार हैं,
जो ज़रा -ज़रा सी बात पर अड़ोसियों -पड़ोसियों को
डायरेक्ट
“तेरि कुड़ि बाँजि होली ” वाली गालियाँ देती थी |
*******************************************************************************
Jokes for garhwali
एक बार एक आदमी चिड़ियाघर में जाता है एक तोते के बाहर लिखा था
” ये हिन्दी , ईंगलिश और गढ़वाली भाषा में बोलने वाला तोता “
आदमी ने इस बात को टेस्ट करने के लिए तोता से पहले ईंगलिश में पूछा – 
” Who are you ” ( हु आर यू ) 
तोता – I am parrot (आई एम पैरॉट )
आदमी – (हिन्दी में) तुम कौन हो ? 
तोता – मै एक तोता हूँ ।
आदमी – (इस बार गढ़वाली में) तुं कु छे रै ??
तोता – मी तयार बुबबा . . . .कमीणा साळा, तेथे मीन दुइ बार बतायल, तेर समझम नी आणि च। सुंगरुक नोनु साला
+++++++++++++
स्कूल मा पेपर आई की जरा बांधू नौ बताओ?
तबरी एक बच्चा न लिखी सिल्की बांध, माया बांध, छकना बांध

———————————————————————————-



कोदे की रोटी कंडाली का साग
बांज की लकड़ी करारी आग
चौमासा की बरखा ह्युन्द की आग
मुंगरी की रोटी पिंडालू कु साग
आषाढ़ की रोपणी भादो कु घाम
सौण की बरखा अशूज कु काम
ह्युन्द की मैना की लम्बी लम्बी रात
आहा कन छा आपडा गौं की बात
देव भूमि
रीति रिवाज
if you have any of garhwali shyari or joke please mail us or comment down we will publish it with your name.

thanks for visit
3 thoughts on “गढ़वाली ठट्ठा (uttrakhandi chutkula) ✅✅✅”
  1. कोदे की रोटी कंडाली का साग
    बांज की लकड़ी करारी आग
    चौमासा की बरखा ह्युन्द की आग
    मुंगरी की रोटी पिंडालू कु साग
    आषाढ़ की रोपणी भादो कु घाम
    सौण की बरखा अशूज कु काम
    ह्युन्द की मैना की लम्बी लम्बी रात
    आहा कन छा आपडा गौं की बात
    देव भूमि
    रीति रिवाज

Leave a Reply

Your email address will not be published.

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website.